Home » Cover Story (Page 2)

सूखा प्रभावित गुजरात में फैक्ट्रियों के लिए पानी है, लेकिन किसानों के लिए नहीं!

सूखा प्रभावित गुजरात में फैक्ट्रियों के लिए पानी है, लेकिन किसानों के लिए नहीं!

  ( उत्तरी गुजरात के कच्छ में एक सूखा हुआ खेत। जिले में लगातार तीन साल सूखा पड़ा है।  नर्मदा घाटी परियोजना का पानी उद्योगों और शहरों तक जाता है।…

बीजेपी और कांग्रेस के लिए सार्वभौमिक स्वास्थ्य देखभाल है मुद्दा, डेटा बता सकते हैं मतदाता की पसंद

बीजेपी और कांग्रेस के लिए  सार्वभौमिक स्वास्थ्य देखभाल है मुद्दा, डेटा बता सकते हैं मतदाता की पसंद

  नई दिल्ली: मार्च 2019 में, सरकार ने बहुत देर हो चुके ‘नेशनल इंडिकेटर फ्रेमवर्क’ (एनआईएफ) और साथ ही ‘सस्टेनबल डिवलप्मेंट गोल’ (एसडीजी) की आधिकारिक आधारभूत रिपोर्ट के प्रविशनल संस्करण…

बीजेपी मंत्री ने कहा, 10 करोड़ नौकरियां सृजित: आंकड़े कहते हैं नौकरियों में हुआ है नुकसान

बीजेपी मंत्री ने कहा, 10 करोड़ नौकरियां सृजित: आंकड़े कहते हैं नौकरियों में हुआ है नुकसान

  बेंगलुरु: 11 अप्रैल, 2019 को 17 वें लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान हुआ। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार…

प्रथम चरण के उम्मीदवारों में से 32 फीसदी करोड़पति, 49फीसदी ग्रैजुएट, 17फीसदी आपराधिक आरोपों का कर रहे हैं सामना।

प्रथम चरण के उम्मीदवारों में से  32 फीसदी करोड़पति, 49फीसदी ग्रैजुएट, 17फीसदी आपराधिक आरोपों का कर रहे हैं सामना।

  मुंबई: लोकसभा चुनाव के पहले चरण में लड़ने वाले उम्मीदवारों में से, 213 (17 फीसदी) ने घोषणा की है कि वे आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं, जिनमें…

उत्तर प्रदेश की हिंदुत्व क्यारी में 2019 से परे देखते हैं युवा कट्टरपंथी

उत्तर प्रदेश की हिंदुत्व क्यारी में 2019 से परे देखते हैं युवा कट्टरपंथी

  मुजफ्फरनगर, कैराना (उत्तर प्रदेश): “देखिए, यह चुनाव वास्तव में आपके सांसद के लिए मतदान के बारे में नहीं है। यह प्रधानमंत्री मोदी को फिर से वापस लाने के बारे…

अपने जनसांख्यिकी अवसर को खो रहा है पश्चिम बंगाल

अपने जनसांख्यिकी अवसर को खो रहा है पश्चिम बंगाल

( लगभग 15,000 लोग, जिनमें ज्यादातर ग्रामीण जिलों के प्रवासी हैं, कोलकाता उपनगरीय ट्रेन स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर इक्ट्ठा हैं। एक उदास सी अर्थव्यवस्था में ये किसी भी…

भारत का 42 फीसदी भूमि क्षेत्र सूखे की चपेट में, चुनावी वर्ष में खेती की हालत बद्तर

भारत का 42 फीसदी भूमि क्षेत्र सूखे की चपेट में, चुनावी वर्ष में खेती की हालत बद्तर

  बेंगलुरू और नई दिल्ली: भारत का लगभग 42 फीसदी भूमि क्षेत्र सूखे का सामना कर रहा है और 6 फीसदी में असाधारण रूप से सूखा है। पिछले साल सूखे…